Saturday, July 11, 2020
स्वप्नदोष क्या है ?  स्वप्नदोष की बीमारी होने के क्या कारण होते है

अपने नाम के विपरीत स्वप्नदोष (Nocturnal emission) कोई दोष न होकर एक स्वाभाविक दैहिक क्रिया है जिसके अंतर्गत एक पुरुष को नींद के दौरान वीर्यपात (स्खलन) हो जाता है। यह 6 महिने में अगर 1 या 2 बार ही हो तो सामान्य बात कही जा सकती है।और यह कहा जा सकता है कि कोई रोग नहीं है किन्तु यदि यह इससे ज्यादा बार होता है तो वीर्य की या शुक्र की हानि होती है और व्यक्ति को शारीरिक कमजोरी का अहसास होता है। क्योंकि यह शुक्र भी रक्त कणों से पैदा होता है। अतः अत्यधिक शुक्र क्षय व्यक्ति को कमजोर कर देता हैं।

स्वप्नदोष, किशोरावस्था और शुरुआती वयस्क वर्षों में के दौरान होने वाली एक सामान्य घटना है, लेकिन यह उत्सर्जन यौवन के बाद किसी भी समय हो सकता है। आवश्यक नहीं है कि प्रत्येक पुरुष स्वप्नदोष को अनुभव करे, जहां अधिकांश पुरुष इसे अनुभव करते हैं वहीं कुछ पूर्ण रूप से स्वस्थ और सामान्य पुरुष भी इसका अनुभव नहीं करते। स्वप्नदोष के दौरान पुरुषों को कामोद्दीपक सपने आ सकते हैं या यह स्तंभन के बिना भी हो सकता है। स्वप्नदोष अधिकतर उन लोगों को होती है जिसने अपने किशोरावस्था के हस्तमैथून क्या हो एक बात और यहां की अधिकतर अगर स्वप्नदोष हो तो इसका उपाय जरूर करे क्योंकि अति किसी भी चीज की बुरी होती है और इससे निश्चित रूप से कमजोरी आती है और आपके सारिरिक मानसिक विकास पर गहरा आघात पहुंचाने के लिए काफी है देखा जाए तो इसकी पूर्ति जब तक शरीर करता है तब तक में में अधिकांश को फिर हो जाता है तो स्वप्नदोष अच्छी चीज नहीं है हा अगर आपको कमजोरी नहीं आती तो फिर घबराने कि जरूरत नहीं है
स्वप्नदोष होने से मन तो हल्का हो जाता है लेकिन खुछ देर बाद कमजोरी का ऐहसास होने लगते लेकिन जरूरी नहीं की इसका स्वप्नदोष से ही हो कोई और भी कारण हो सकते है ये आपको जांच कराना पड़ेगा अगर कमजोरी आती है तो अधिकतर पुरुषों को सुबह उठने के बाद अपने अंडरवियर या पैजामे में गीला और चिपचिपा पदार्थ देखने को मिलता है जो कि मूत्र नहीं होता। यह मूत्र से गाढ़ा होता है। पहली बार इसे देखकर आप आश्चर्यचकित हो जाते हैं, क्योंकि कभी-कभी इसके कारण बिस्तर भी गीला हो जाता है जिस कारण आप शर्मिंदगी भी महसूस करते हैं। वास्तव में ऐसा कामुक सपने देखने के कारण होता है इसीलिए इसे स्वप्नदोष कहा जाता है।

स्वप्नदोष के कारण 

1. अश्लीन विचार :
स्वप्नदोष का प्रमुख कारण अश्लीन चित्र अथवा अश्लीन फिल्म देखना है | आपके मन में कामवासना से संबन्धित ख्याल आते है जो की स्वप्नदोष के प्रमुख कारण बनते है |

2. पत्नी या प्रेमिका से दुरी :
अगर पति -पत्नी या प्रेमी – प्रेमिका के बिच में अत्यधिक आकर्षण हो तथा सम्बन्ध काफी गहरा हो, तो दोनों के बिच की दूरियाँ भी स्वप्नदोष का एक कारण बनती है |

3. अशुद्ध या ख़राब खान पान :
आज इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में युवा अपने खान पान का ख्याल नहीं रख पाता , उसकी दिनचर्या में कचौरी , समोसे जैसे तली गली चीजे खाता है , इस कारण भी स्वानदोष की शिकायत हो जाती है |

4. दूध से बनी चीजों का अधिक सेवन :
आजकल मीठा खाने का शौक किसे नहीं होता , खासकर की युवाओ को | ज्यादातर युवा दूध , घी और मावा से मिलकर बनी मिठाइयाँ बड़े चाव से खाते है , इस कारण भी स्वप्नदोष हो जाता है | रोज रात को अधिक मात्रा में गर्म दूध पिने से भी स्वप्नदोष होने की संभावनाएं बढ़ जाती है |

5. मानसिक दबाव के कारण :
युवाओ में यदी किसी प्रकार का भय है तो उनके अंदर एक मानसिक दबाव बन जाता है जिसके कारण उनका शरीर काफी शिथिल हो जाता है , इसी वजह से भी स्वप्नदोष की समस्याएं बढ़ जाती है |

स्वप्नदोष के नुकसान – Side effects of nightfall in Hindi

स्वप्नदोष, हालांकि हानिरहित होता है लेकिन अगर ये लम्बे समय तक चलता है तो नीचे दिए गए दुष्प्रभाव हो सकते हैं –

  1. इससे चक्कर, घुटनों में दर्द और अनिंद्रा की समस्या होने लगती है।
  2. इससे स्मरणशक्ति की समस्या बढ़ने लगती है और आँखों की रोशनी कम हो जाती है।
  3. स्वप्नदोष से शुक्राणुओं की संख्या कम होने लगती है।
  4. स्वप्नदोष की वजह से पुरुषों में कामुक विचार अधिक आने लगते हैं।
  5. इससे मानव शरीर के हॉर्मोन्स में भी बाधा उतपन्न होती है।
  6. पुरुषों का सेक्स जीवन में फुर्तीलापन खत्म हो जाता है।
  7. तनाव और चिंताओं की समस्या बढ़ने लगती है।
  8. रोज़ाना के कार्यों में जल्दी थकावट महसूस होने लगती है।
  9. व्यक्ति आत्म-विश्वास खोने लगता है। खून की कमी होने लगती है।
  10. स्वप्नदोष के कारण अंडकोष में दर्द होने लगता है।
  11. गैस और बदहजमी की समस्या पनपने लगती है।
  12. बालों का झड़ना शुरू हो जाता है।
  13. व्यक्ति कमजोर होने लगता है। कब्ज की परेशानी शुरू हो जाती है।

स्वप्नदोष में ये रखे सावधानी :

  1. मन को पवित्र रखने के लिए धार्मिक पुस्तकों का अध्यन करे |
  2. रोज रात्रि में ठण्डे पानी से नहाएं |
  3. रात्रि में गर्म दूध ना पिये |
  4. उत्तेजना पैदा करने वाले चलचित्र ना देखे और ना ही ऐसे साहित्य पढ़े |
  5. सोने से तीन घंटे पहले भोजन कर ले |
  6. गुप्तांग के आस पास बालों को बढ़ने ना दे |
  7. गुप्तांग की चमड़ी को पीछे हटाकर रोज साफ पानी से धो ले |
  8. रोजाना हल्का व्यायाम करे |

स्वप्नदोष के घरेलू उपाय :

  1. सोते समय 5 ग्राम मिश्री में कपूर मिलाकर कुछ दिनों तक खाने से स्वप्नदोष में आराम मिलता है |
    आँवले का मुरब्बा 1 से 2  ग्राम रोज खाने से स्वप्नदोष जड़ से ख़त्म हो जाता है |
  2. इमली के बीज को भूनकर बराबर मात्रा में शक्कर में मिलाकर रख ले और इसे एक चम्मच गाय के दूध के साथ ले , स्वप्नदोष में काफी आराम होगा |
  3. खाना खाने के बाद 2 पके हुए कैले में 4 – 5 बूंद शहद मिलाकर खाने से स्वप्नदोष में आराम होता है और वीर्य बढ़ता है |
    ताजे नीम की पत्तियों को रोज चबाकर खाने से स्वप्नदोष की समस्या का जड़ से नाश हो जाता है

जय हिन्द दोस्तो क्या आप भी नाइट फाल्स ओर हस्तमैथुन जैसी समस्या से जूझ रहे है तो ये तरीका अपना लेे आपकी प्रॉब्लम जड़ से खत्म हो जाएगी |

 

Tags: , , , , , , , , , , , , ,
Avatar

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement

RECENTPOPULARTAG