Wednesday, October 23, 2019
SSC GD में रोड रनिंग किस प्रकार से करे |

SSC GD , में रोड रनिंग किस प्रकार से करे |

SSC GD 5KM road runnig kese kare |

आये दोस्तों आज हम आपको बतायेगे की SSC में रोड रनिंग किस प्रकार करे | अभी आप SSC GD की तैयारी कर रहे | तो आप को रोड पे 5 k.m रनिंग करना अनिवार्य है किस प्रकार आप को रोड पे रनिंग करना है की आप SSC GD  में रनिंग पास कर सके और अपना कॅरियर बना सके | तो दोस्तों में आप से यही कहुगा की आप जब भी रनिंग की तैयारी करते है तो आप रोड के निचे कच्चा रोड का इस्तेमाल करे ताकि आप को पेरो में होनी वाली तकलीफ नहो और आप SSC GD में रनिंग को पास कर सके |

अगर आप रोड रनिंग करते है तो आप को होनी वाली समस्या सिन पैन , लीगा मेन्ट की प्रॉब्लम थाई , मसल्स की प्रॉब्लम , काप मसल्स की प्रॉब्लम ये सारे दर्द आप को होने वाले है | और आप मजबूरन रोड रनिंग करना है | क्योंकि आप जहा भी भर्ती देने जायेगे वहा आप को रोड पे रनिंग करना है | अगर आप ने घर पे कच्चे रोड पे तैयारी की है तो आप को बहुत ज्यादा प्रॉबल्म होनी वाली है |

Road pe ranig ka sahi tarika|

तो दोस्तों में आपको आज बता देता हु की आप को किस प्रकार रनिंग करना है | तो दोस्तों आप सबसे पहले रोड पे रनिंग करना शुरू करे ताकि आप वहा पर रोड रनिंग ही करनी है | तो रोड पर आप जब भी रोड रनिंग करते है तो आप को फ्लेट पैर के साथ रनिंग करना है | आप को पंजे पे बिल्कुल नहीं दौड़ना है | अगर आप ने पंजे पे रनिंग की तो आप को पैरो में मसल्स प्रॉब्लम हो जाएगी | आप नसों में खींच जाएगी आप को बहुत ही ज्यादा दर्द होने लग जायेगा | तो आप बिल्कुल भी पंजे का इस्तेमाल न करे |

 

दूसरी सबसे बड़ी बात आती है की आप ने किट कोनसा पहना है | अगर आप रोड रनिंग की तयारी कर रहे है | तो आप का सुज का चयन सही तरिके से होना जरूरी है | अगर आप के सुज अच्छी तरिके से होना जरूरी है | आप अगर अच्छी कंपनी का सूज का उपयोग करते है| तो आप को पेरो की समस्या नहीं होगी |

तीसरी सबसे बड़ी ये है की आप का रनिंग करने का तरीका सही होना चाहिए | अगर आप का रनिंग करने का तरीका प्रॉपर होना चाहिए क्योकि आप क्या करते है की आप के हाथो का सुविंग सही नहीं होता है | तो आप के हाथो का सुविंग सही तरिके से होना चाहिए | आपका बॉडी वेट अगर आगे की तरह होना चाहिए |

हमेशा यह ध्यान दे की आपके पैर जो जमीन पर पड़ते है वो कही आगे पीछे या टेड़े मेडे तो नहीं पड़ते है | आप अपने पेरो को अपने पैर की सीध मे रखे | ताकी जो आपके पैर आगे वाले की पैर की सिधाई गिरना चाहिए ताकी आप को रनिंग में आपको को कम रनिंग करना पड़ती है | इससे आपका टाइमिंग में काफी हद तक होगी |

अगर आप पहली बार रनिंग की तैयारी करते है | तो आप रोड रनिंग करे तो बिच -बिच में कच्चे रोड पे फिर बिच में पक्के रोड पर रनिंग करना है| 5 से 7 दिन ऐसे ही आप को रनिंग करना है | उसके बाद आप को रोड रनिंग करना है | इससे आप अपना संतुलन भी बना सकते है | इससे आप का टाइमिंग भी कवर होगा | अगर आप इस तरह से रनिंग करते है तो आप के पेरो मे कम तकलीफ होगी | इससे आप के पेरो का बचाव हो सकता है |

 

विचारों को पढ़कर बदलाव नहीं आता है ,
विचारों पर चलकर ही बदलाव आता है…..

, जय हिन्द , जय भारत ,

Tags: , , , , ,
Avatar

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement