Saturday, October 31, 2020
Mango khane ke fayde va labh

भारतीय उपमहाद्वीप के उप-हिमालयी मैदानों में उगाए जाने वाले फलों में आम सबसे पौष्टिक फलों में से एक है। पूरे भारत में आम के स्‍वाद और खुशबू को पसंद किया जाता है। गर्मी के मासैम में तो आम की जैसे बहार सी आ जाती है। यहां तक कि भारत में तो आम को ‘फलों का राजा’ कहा जाता है। प्राचीन समय से आम की खेती की जा रही है। प्रसिद्ध कवि कालिदास ने भी आम की प्रशंसा में गीत गाया है। माना जाता है कि मुगल बादशाह अकबर ने दरभंगा यानि की बिहार में आम के 1,00,000 से भी ज्‍यादा पेड़ लगवाए थे।इसमें फाइबर, पोटेशियम, मैग्निशियम, विटामिन बी-6, विटामिन ए और विटामिन सी आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर के हेल्दी रखने में मदद करते हैं।

इसके अलावा इसमें कोलेस्ट्रोल और सोडियम की मात्रा भी कम होती है जो शरीर को स्वस्थ रखते हैं।रसीले पके आम अत्यंत स्वादिष्ट लगते हैं। गर्मियों में इनकी आवक के साथ ही घर-घर में आम के व्यंजन बनने लगते हैं। आम का रस, आम की चटनी, आम के पापड़… और सबसे अच्छा तो इसे यूं ही काट कर खाना माना जाता है।इसमें पाए जाने वाला पोषक तत्व हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते है। कई अध्ययनों ने ये साबित किया है कि आम खाने से कई छोटे-बड़ें रोगों से हमें छुटकारा मिल सकता है। आम खाने के फायदे अनेक है आम में पाया जाने वाला बीटा कैरोटीन हमारे शरीर को कई रोगों से बचाता है। आपको यहां बता दें कि आम में लगभग 20 से भी अधिक मिनिरल्स और विटामिन्स पाये जाते हैं।

आम विटामिन, पॉली-फेनोलिक फ्लेवेनोएड एंटीऑक्‍सीडेंट्स, प्री-बायोटिक डाइट्री फाइबर्स और मिनरल्‍स से भरपूर है। इसमें कई तरह के विटामिंस जैसे कि विटामिन ए, सी और डी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कि शरीर की संपूर्ण सेहत में सुधार लाने में उपयोगी है। आम का सेवन फल, जूस या शेक के रूप में किया जाता है।आम ज्यादातर उष्णकटिबंधीय देशों में उगाया जाता है लेकिन विश्‍व में भारत आम का सबसे बड़ा उत्पादक है। आम भारत का राष्‍ट्रीय फल है। पहाड़ी क्षेत्रों को छोड़कर लगभग भारत के सभी हिस्सों में इसकी खेती की जाती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि भारत में आम की 100 से भी ज्‍यादा किस्‍में मौजूद हैं जिनका आकार, रंग और आकृति अलग-अलग है। आम की कुछ लोकप्रिय किस्‍मों में लंगड़ा आम, बंगनापल्‍ली, चौसा, तोता, सफेदा, अल्‍फांसो आम आदि का शामिल हैं।

आम खाने के फायदे व लाभ

 

कोलेस्ट्रॉल को करें कम

आम का नियमित रूप से सेवन करने से आप अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रण में रख सकते हैं। आम में उच्च मात्रा में मौजूद विटामिन सी, पेक्टिन और फाइबर कोलेस्ट्रॉल, विशेष रूप से ‘खराब’ एल.डी.एल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक है। इसके अलावा यह रक्त में ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में भी मदद करता है। यही नहीं आम ‘अच्छा’ एच.डी.एल कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में भी मददगार है।

इसके अतिरिक्त, आम पोटेशियम का एक समृद्ध स्रोत है, जो तंत्रिका तंत्र में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इससे ह्रदय की गति और रक्त-चाप नियंत्रण में रहता है और दिल के दौरे और स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है।

कामेच्छा बढ़ाये

आम में विटामिन ई काफी मात्रा में होता है। और विटामिन ई सेक्स क्षमता को बढ़ाने वाला माना जाता है। यह पौरुष क्षमता में इजाफा करता है। अपने इन्हीं गुणों के कारण इसे कई बार ‘लव-फ्रूट’ की संज्ञा भी दी जाती है।

सेक्स लाइफ को बढ़ाने में फायदेमंद 

आपको शायद ये बात मालूम नहीं होगी की आम में विटामिन ई की मात्रा होने के कारण ये सेक्स लाइफ को बढ़ाता है। अस्ट्रेलियन अध्ययन से पता चला है कि विटामिन ई और बिटा कैरोटिन की मदद से स्पर्म काउंट को बढ़ाया जा सकता है। इन दोनों की मदद से स्पर्म को डैमज होने से भी बचाया जा सकता है।

डायबिटीज फायदेमंद 

आम का फल मीठा होने के कारण कुछ लोगों का मानना है कि डायबिटीज के रोगी को इसका सेवन नहीं करना चाहिए लेकिन ऐसा मानना बिल्कुल गलत है। आम का फल ही नहीं इसके पत्ते भी डायबिटीज रोगी के लिए फायदेमंद होते हैं।

आंखों के लिए फायदेमंद

शरीर के अन्य अंगों की तरह आंखों का ध्यान रखना भी जरूरी है। उम्र के साथ आंखों की रोशनी कम होना सामान्य है, लेकिन कम उम्र में ही ऐसा हो, तो इसका मतलब यह है कि पोषक तत्वों की कमी के कारण ऐसा हो रहा है। खासकर, विटामिन-ए की कमी का असर आंखों की रोशनी पर पड़ता है।

ऐसे में आम का सेवन आंखों को स्वस्थ रख सकता है, क्योंकि इसमें विटामिन-ए मौजूद होता है। इसके अलावा, मानव आंख के दो प्रमुख कैरोटेनॉइड हैं – ल्यूटिन और जियाजैंथिन। आम को जियाजैंथिन का समृद्ध स्रोत माना गया है और यह आंखों को स्वास्थ्य रखने में मदद कर सकता है। यह उम्र के साथ आंखों की रोशनी को कमजोर होने से बचा सकता है। एक अध्ययन के अनुसार, आम में मौजूद क्रिप्टोजैन्थिन नामक कैरोटिनॉइड उम्र के साथ होने वाले कमजोर दृष्टि की समस्या को कम करने में मदद कर सकता है।

रखें स्मरण-शक्ति को तीव्र

दिमाग के विकास और स्मरण-शक्ति को बढ़ावा देने के लिए ना जाने लोग कितने सामग्रियों का उपभोग करते हैं, परंतु क्या आप इस बात से परिचित हैं कि स्मरण-शक्ति को बढ़ाने का एक बहुत ही सरल और स्वादिष्ट उपाय है ? जी हाँ, आप आराम से घर बैठे आम के मीठे रस का स्वाद लेते हुए अपनी स्मरण-शक्ति को बढ़ा सकते हैं और एकाग्रता के स्तर में सुधार ला सकते हैं।

आम में उपस्थित ग्लुटामिन एसिड स्मृति को बढ़ावा देने और मानसिक सतर्कता को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है। इसके अलावा, आम विटामिन बी -6 से भी भरपूर है जो मस्तिष्क की कार्यशीलता को बनाये रखता है और उसमें सुधार के लिए एक महत्वपूर्ण तत्व है।

अतः यदि आपको पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित करने में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है या फिर आप अपनी कमज़ोर याददाश्त से परेशान हैं तो, अपने आहार योजना में आम को शामिल अवश्य करें

त्वचा को बनाए स्वस्थ्य

आपको बता दें कि आम में बीटा कैरोटिन और विटामिन ए प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जर्मन अध्ययन के अनुसार कैरोटीनाइड त्वचा को स्वस्थ्य बनाए रखने में मदद करता है। वही बीटा कैरोटीन एक फोटोप्रोटेक्टिव एजेंट है, यह एपिडर्मिस पर होने वाले फोटोकेमिकल रिएक्शन को रोकने में मदद करता है। जिसके कारण पराबैंगनी किरणों से त्वचा की रक्षा होती है। जिससे आप सूरज की तेज धूप से अपनी त्वचा को बचा पाते है

गर्मी से बचाव के लिए

ये तो सभी जानते हैं कि आम गर्मियों के मौसम का फल है। यह शरीर को गर्मियों में चलने वाली गर्म हवा यानी लू से बचा सकता है। गर्मी के दिन में पके आम का जूस पीने से गर्मी के प्रकोप से बचा जा सकता है, क्योंकि यह न सिर्फ शरीर को ताजगी देता है, बल्कि हाइड्रेट भी करता है (29)। इसके अलावा, कई लोग लू लगने से और बुखार आने से कच्चे आम को उबालकर शरीर पर लगाते हैं, ऐसा माना जाता है कि इससे शरीर ठंडा होता है।

हीट स्ट्रोक से बचाएं

भारत के कई क्षेत्रों में आज भी लू एवं उसके लक्षणों को जड़ से मिटाने के लिए लोग आम पन्ना के रसीले एवं खट्टे-मीठे स्वाद का आनंद लेते हैं। हीट स्ट्रोक होने का खतरा कम करने के लिए, यह अनिवार्य है कि आपके शरीर में तरल पदार्थ का स्तर उच्च हों। आम पोटेशियम का एक समृद्ध स्रोत है, जो शरीर में सोडियम के स्वस्थ स्तर को बनाये रखने में सहायक है। शरीर में स्वस्थ सोडियम का स्तर, शरीर के तरल पदार्थ के स्तर को नियंत्रित करता है और हीट स्ट्रोक से बचाव करता है।

गर्मी के दिनों के दौरान, आप पके हुए एवं कच्चे आम दोनों का ही सेवन कर सकते हैं, इससे आपके शरीर को ठंडक मिलेगी और वह पुनः हाइड्रेट भी हो जाएगा। यदि आप पके हुए आम का सेवन कर रहे हैं तो उसके शीतलन प्रभाव को बढ़ाने के लिए, खाने से पहले एक घंटे के लिए, आम को पानी में भीगने के लिए छोड़ दें। तापघात को मात देने में कच्चे आम का रस अधिक प्रभावशाली होता है। इसे तैयार करने के लिए, दो कच्चे आम को दो कप पानी में तब तक उबाल लें, जब तक वे नरम न हो जाएँ। ठंडा होने पर, आम के गूदे को बाहर निकाल लें और उसमें एक गिलास ठंडा पानी मिलाएं। आप इसमें स्वाद के लिए सेंधा नमक और चीनी भी मिला सकते हैं। इसे रोजाना दिन में एक से दो बार पीएं।

कैंसर से बचाएं

फलों के राजा आम के गूदे में कैंसर से लड़ने की शक्ति होती है। आम में पाए जाने वाले कैरोटीनॉयड, एस्कॉर्बिक एसिड, टर्पेनॉयड और पॉलीफिनॉल कैंसर रोग से बचाव करते है। आम में एंटीऑक्सीडेंट्स होते है जो की कई फल व सब्जियों में नहीं पाए जाते है। टेक्सास स्टडी के द्वारा किए गए एक अध्ययन से पता चलता है कि आम खाने के फायदे कैंसर सेल को बढ़ने से रोकता है।

वजन कम करने के लिए

आजकल मोटापा या बढ़ता वजन हर दूसरे व्यक्ति की परेशानी है। ऐसे में अगर व्यायाम व योग के साथ सही डाइट पर ध्यान दिया जाए, तो इससे छुटकारा मिल सकता है। वजन घटाने के लिए आप अपनी डाइट में आम को शामिल कर सकते हैं। सिर्फ आम ही नहीं एक अध्ययन के अनुसार आम का छिलका (जो हम आमतौर पर फेंक देते हैं) भी मददगार साबित हो सकता है । इसके अलावा, आम में फाइबर होता है, जो वजन घटाने में काफी मदद कर सकता है। मिनेसोटा विश्वविद्यालय के एक अध्ययन में यह साबित हुआ कि फलों और सब्जियों में मिलने वाले डाइटरी फाइबर के सेवन से वजन घटाने में काफी सहायता हो सकती है। इसलिए, अपने आहार में आम को जरूर शामिल करें।

संभोग और शुक्राणु के लिए

आम में कामोत्तेजक गुण मौजूद होते हैं, जो संभोग की इच्छा को बढ़ा सकते हैं। इसके साथ ही आम में मौजूद विटामिन-ई और बीटा-कैरोटीन का मिश्रण शुक्राणुओं को नष्ट होने से बचा सकता है।

नशा उतारने में फायदेमंद 

दोस्तों के साथ पार्टी करना या ऑफिस के सहकर्मियों के साथ पार्टी में जाना और शराब का सेवन करना आजकल आम हो गया है। इसमें कोई दो राय नहीं कि शराब का सेवन सेहत के लिए हानिकारक है। फिर अगर आप शराब पीते हैं, तो उसका हैंगओवर उतारने के लिए आप आमतौर पर नींबू पानी का सहारा लेते हैं। आप नींबू पानी की जगह आम का भी सेवन कर सकते हैं। आम या आम का छिलका हैंगओवर को ठीक करने में मदद कर सकता है ।

बालों के लिए फायदेमंद

त्वचा के साथ-साथ बालों की खूबसूरती भी जरूरी है। बाल अगर लंबे हों, लेकिन स्वस्थ न हों, तो कोई फायदा नहीं है। बालों को स्वस्थ बनाने के लिए सिर्फ शैंपू, कंडीशनर और तेल ही नहीं, बल्कि सही डाइट भी जरूरी है। बालों को खूबसूरत और चमकदार बनाने के लिए आप आम का सेवन कर सकते हैं। आम में प्रचुर मात्रा में विटामिन-सी पाया जाता है, जो कोलेजन उत्पादन को बढ़ावा देता है और बालों को स्वस्थ बनाने में मदद करता है। इसके अलावा भी आम में कई पौष्टिक तत्व हैं, जो बालों को घना और चमकदार बना सकते हैं।

Tags: , , , , , ,
Avatar

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement

RECENTPOPULARTAG