Thursday, May 28, 2020
Ganne ka ras peene ke fayde or labh

ताजा गन्ने के रस का एक बड़ा ग्लास टेस्टी तो होता ही है, साथ ही डीहाइड्रेशन से बचने का सबसे अच्छा विकल्प है।गर्मियों में गन्ने का जूस न सिर्फ प्यास बुझाता है, बल्कि अपने औषधीय गुण के कारण शरीर की रक्षा भी करता है।इसमें आयरन, पोटैशियम, कैल्शियम व मैग्नीशियम जैसे जरूरी पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो शरीर को कई तरीके से लाभ पहुंचाने का काम करते हैं।

इसके साथ ही यह जॉन्डिस जैसी घातक बीमारी में कारगर है वहीं तो गर्भवती महिलाओं के लिए यह बेहतरीन पेय है। इसका रस एनीमिया, कैंसर आदि तमाम बीमारियों से गन्ने का रस हमें बचाता है।
आइए जानते है गन्ने का रस पीने के फायदे और लाभ कुछ इस प्रकार है

गन्ने का रस पीने के फायदे और लाभ

शरीर को सवस्थ और ऊर्जावान रखने में

अगर आप गर्मियों में निर्जलीकरण का सामना कर रहे हैं, तो गन्ने का जूस आपको तुरंत ऊर्जा देने का काम करेगा। गन्ने का रस थकान मिटाने के साथ-साथ आपको तरोताजा करने का काम करेगा। गन्ना प्राकृतिक शर्करा का एक अच्छा स्रोत है, जो आपके शरीर में खोए हुई शर्करा की पूर्ति करेगा।

पीलिया में राहत दे

सदियों से पीलिया से पीड़ित मरीजों को गन्ने का रस दिया जाता है. क्योंकि इसका जूस पीलिया के कारण लिवर को प्रभावित करने वाला बिलीरुबिन नामक तत्व लिवर में पाए जाने वाला भूरे-पीले रंग का द्रव्य, जो लाल रक्त कोशिकाओं के टूटने पर बनता है को कम करता है, जिससे लिवर धीरे-धीरे मजबूत बनता है.

साँस लेने में तकलीफ कफ होने पर

अगर आपको साँस लेने, कफ और सर्दी की समस्या हो तो आपको गन्ने का रस नहीं पीना चाहिए, क्योंकि इससे आपका कफ ज्यादा बढ़ सकता है और आपको साँस लेने में ज्यादा तकलीफ हो सकती है।

वजन कम करने में

वजन घटाने के प्राकृतिक नुस्खे के रूप में आप गन्ने के रस का सेवन शुरू कर सकते हैं। गन्ना फाइबर से युक्त होता है, जो शरीर से अतिरिक्त चर्बी को हटाने का काम कर सकता है। फाइबर शरीर में फैट को नियंत्रित करने में अहम भूमिका निभाता है।

थकान कम करने में

गन्ने में अच्छी मात्रा में काइब्रोहाइड्रेट्स, प्रोटीन, आयरन, पोटेशियम और एनर्जी ड्रिंक में मिलने वाली सभी जरूरी न्यूट्रिएंट्स होते हैं. इसी वजह से एक ग्लास गन्ने का रस आपने शरीर को एनर्जी से भर थकान खत्म कर देता है.

गर्भावस्था में लाभदायक

गर्भावस्था के दौरान गन्ने का रस अहम भूमिका निभा सकता है। इसमें मौजूद पॉलीफेनॉल्स मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने और गर्भावस्था के दौरान वजन को नियंत्रित करने का काम करता है। गन्ने का जूस कैल्शियम, मैग्नीशियम और आयरन से समृद्ध स्रोत है, इसलिए नियमित रूप से इसका सेवन शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने और गर्भावस्था के दौरान खनिज की कमी की पूर्ति करता है। गर्भावस्था में कब्ज की समस्या से निजात पाने के लिए भी गन्ने के रस का सेवन किया जा सकता है (11)।

Tags: , , , , , ,
Avatar

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement

RECENTPOPULARTAG