Wednesday, October 23, 2019
भुना चना खाने के फायदे

भुने हुए चने सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद है

 

आपने भुने हुए चने तो खाए ही होंगे. अगर आप भुने हुए चनों को केवल स्वाद के लिए कभी-कभी खाते हैं तो इन्हें रोजाना खाना शुरू कर दीजिए. भुने हुए चने खाने से शरीर को जबरदस्त स्वास्थ्य लाभ होता है. हो सकता है आपको भी चने खाने से होने वाले फायदों के बारे में जानकारी न हो. ध्यान रखें कि बाजार में भुने हुए चने दो तरह के होते हैं छिलके वाले और बिना छिलके वाले. आपको बिना छिलके वाले चने ही खाने हैं, चने के छिलके भी सेहत के लिए अच्छे होते हैं. भुने हुए चने को यदि सही तरीके से चबा चबाकर खाया जाएं तो यह मर्दाना ताकत में बढ़ोतरी होती है.

भुना चना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है। जिस चने की यहां हम बात कर रहे हैं उसे काले चने, भूरे काबुली चने आदि के रूप में भी जाना जाता ह। यह भारत में खाए जाने वाले सबसे लोकप्रिय अल्पाहार (स्नैक) में से एक है। यह प्रोटीन, फाइबर, खनिज, फोलेट और फैटी एसिड का अच्छा स्रोत है जो कई तरीकों से स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है। भुने हुए चने में कैलोरी बहुत कम होती हैं। इसे थोड़ा खाने पर ही पेट भर जाता है इसलिए इससे वजन कम करने में मदद मिलती है। भुने हुए चने निश्चित तौर पर बेहतरीन स्नैक है क्योंकि यह मोटापा कम करने और स्वस्थ रहने में बहुत उपयोगी होते हैं। ये प्रोटीन और फाइबर में परिपूर्ण होते हैं, जिन्हें अतिरिक्त वजन कम करने के लिए जाना जाता है।

 

भुने हुए चने के लिए फायदे

 

प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है
रोजाना नाश्ते में या दोपहर के खाने से पहले 50 ग्राम भुने हुए चने यदि आप खाते हैं तो इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.

मोटापा घटाए
रोजाना भुने हुए चने खाने से मोटापे की समस्या में राहत मिलती है. इसका सेवन शरीर से अतिरिक्त चर्बी को पिघलाने में मदद करता है.

पेशाब संबंधी रोग से छुटकारा
भुने हुए चनों के सेवन से पेशाब से जुड़ी बीमारियों से छुटकारा मिलता है. जिनको भी बार-बार पेशाब आने की समस्या हो उन्हें रोजाना गुड़ के साथ चने का सेवन करना चाहिए.

नंपुसकता दूर करें
भुने हुए चने दूध के साथ खाने से स्पर्म का पतलापन दूर हो जाता है और वीर्य गाढ़ा होता है. वही भुने चने को शहद के साथ खाने से नंपुसकता दूर हो जाती है और पुरुषत्व में वृद्धि होती है.

मधुमेह में लाभकारी
भुने हुए चने खाने से मधुमेह रोग में भी लाभ मिलता है. भुने हुए चना ग्लूकोज की मात्रा को सोख लेते है जिससे डायबिटीज रोग नियंत्रित हो जाता है.

 

चना भूनने का तरीका

  • सबसे पहले कच्चे या सूखे चने लें और इसे 6 घंटे या रात भर के लिए पानी में भिगो दें।
  • इसके बाद इन चनों को पानी से निकाल लें और उसे 15 मिनट तक उबालें।
  • आपको उबालने के बाद यह चेक करना है कि चने मुलायम हुए हैं या नहीं!
  • उबालने के बाद चने से पानी को अच्छे से अलग कर दीजिए।
  • अब इन चनों को एक ओवन में रखें और 400 डिग्री फॉरेनहाइट पर ओवन को सेट कर दें।
  • 400 डिग्री फॉरेनहाइट पर चने को बीस मिनट तक के लिए भूनना है।
  • इसके बाद चने को ठंडा करने के लिए छोड़ दीजिए।
  • जब चना ठंडा हो जाए तो उसे पुनः ओवन में 20 मिनट के लिए रख दें और जब तक कि चना क्रिस्पी न हो जाए तब तक यह प्रक्रिया करते रहें।
  • जब चना हल्का गोल्डन कलर का हो जाए तो उसे ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
  • ठंडा होने के बाद आप भुने चने का आनंद ले सकते हैं

 

Tags: , , , ,
Avatar

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement