Friday, September 25, 2020
Anar khane se kya labh hota hai ?

वो कहावत तो आपने सुनी ही होगी, ‘एक अनार, सौ बीमार’। हम बता दें कि यह सिर्फ कहावत भर नहीं है। वास्तव में एक अनार कई बीमारियों से बचाने में सक्षम है। यह न सिर्फ कैंसर व ह्रदय से जुड़ी बीमारियों को होने से रोक सकता है, बल्कि त्वचा की सुंदरता बढ़ाने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

इस बात से तो हम सभी वाकिफ है कि फलों का सेवन स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। लेकिन अक्सर देखने में आता है कि लोग हमेशा फलों के रस की बजाय उन्हें यूं ही खाने की सलाह देते हैं क्योंकि इससे उनके स्वास्थ्य लाभ काफी कम हो जाते हैं। दरअसल, अधिकतर फलों के छिलकों में एंटी−ऑक्सीडेंट्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं

अनार का जूस महिला और पुरुष दोनों के लिए लाभदायक होता है. शोध के मुताबिक अनार का जूस टेस्टास्टेरॉन की मात्रा को तेजी से बढ़ाता है. वहीं डॉक्टरों का भी मानना है कि सिर्फ दो हफ्ते तक अनार का जूस पीने से शारीरिक ताकत बढ़ाई जा सकती है.

अनार का जूस पीने से सेहत के अन्य फायदों के साथ-साथ मस्तिष्क की क्षमता भी बढ़ती है और यह दिमाग में आने वाले नकारात्मक विचारों और भावों को दूर कर मूड को अच्छा बनाता है. इसके अलावा अनार का जूस दिल को स्वस्थ रखने और ब्लड सर्कुलेशन को नियंत्रित रखने में भी सहायक होता है.
अनार खाने के प्रमुख लाभ हम आपको निचे बतायेगे जो निम्नानुसार है –

अनार खाने के प्रमुख लाभ निम्नानुसार है –

ह्रदय की सेहत के लिए

अनार में एंटीऑक्सीडेंट गुण पर्याप्त मात्रा में होता है। यही कारण है कि इसे ह्रदय की सेहत के लिए अच्छा माना गया है। अनार के सेवन से अच्छे कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ता है और हानिकारक ऑक्सीडाइज लिपिट का असर कम होने लगता है। इसके चलते एथेरोस्क्लेरोसिस होने की आशंका काफी हद तक कम हो जाती है। धमिनयों में वसा व कोलेस्ट्रॉल के जमा होने पर एथेरोस्क्लेरोसिस नामक बीमारी होती है।
अनार के बीज भी कम गुणकारी नहीं हैं। ये न सिर्फ रक्तचाप को सामान्य करते हैं, बल्कि ह्रदय की कोशिकाओं में आई सूजन को भी कुछ हद तक कम कर सकते हैं। ध्यान रहे कि अगर कोई गंभीर रूप से ह्रदय रोग से पीड़ित है, तो उसे डॉक्टर से इलाज जरूर करवाना चाहिए। साथ ही घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल डॉक्टर से पूछकर ही करना चाहिए।

कैंसर का खतरा कम

अनार में ऐसे गुण हैं जो शरीर में कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकते हैं। रोजाना मुट्ठीभर अनार का सेवन प्रोस्टेट, ब्रेस्ट और स्किन कैंसर का खतरा कम करता है। जिन लोगों को कैंसर है उनके लिए इसका जूस पीना फायदेमंद है। इससे शरीर में PSA का स्तर घट जाता है, जिससे कैंसर से लड़ने में मदद मिलती है।

रक्तचाप को नियंत्रित करता

अनार रक्तचाप को नियंत्रित करता है, खास तौर से हाई ब्लड प्रेशर में यह लाभप्रद है, परंतु अगर आप निम्न रक्तचाप के मरीज हैं या डॉक्टर के अनुसार दवाईयों का सेवन कर रहे हैं तो यह कभी-कभी नुकसानदायक हो सकता है।

गर्भवस्था में लाभदायक

इसमें विटामिन और मिनरल और फोलिक एसिड पाया जाता है, जोकि गर्भ में पल रहे शिशु और मां के लिए फायदेमंद है। साथ ही इसका सेवन प्रेग्नेंसी में पैरों के दर्द से राहत देता है। इसके अलावा इसका सेवन से प्रीमेच्योर डिलीवरी का खतरा कम करता है

त्वचा की झुर्रियों को रोकने में मदद

अनार में उच्च मात्रा में विटामिन ए, ई और सी होता है, जिससे बढ़ती उम्र की समस्या दूर रहती है। रोजाना इसका सेवन त्वचा की महीन रेखाओं और झुर्रियों को रोकने में मदद करता है।

वजन कम करने में सहायक

पेट, लीवर और ह्रदय की गतिविधियों को दुरुस्त रखने में अनार सहायक फल हैं. इससे भूख बढ़ती हैं और प्यास कम लगती हैं. इसलिए इसे गर्मी में बहुत फायदेमंद समझा जाता हैं. इससे यूरिन संबंधी परेशानी ठीक होती हैं, यह यूरिन के बहाव को सरल करता हैं. अनार में बहुत अधिक फाइबर होते हैं जो घुलनशील एवं अघुलनशील दोनों ही तरह के हैं. जिससे पाचन तंत्र अच्छा रहता हैं और इसके इसी गुण के कारण वजन कम करने में इसे सहायक फल माना गया हैं, क्यूंकि इसमें सैचुरेटेड एसिड होता हैं और कॉलेस्ट्रोल नहीं होता है.

हड्डियों को रखे स्ट्रांग

अगर कोई हड्डियों व जोड़ों के दर्द से परेशान हैं, तो आज से अनार का सेवन करना शुरू कर दें। अनार के दानों में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होता है, जो अर्थराइटिस जैसी बीमारी में फायदेमंद साबित हो सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर एक रिसर्च पेपर के आधार पर पुष्टि करती है कि अनार के सेवन से जोड़ों में दर्द और सूजन में कमी आ सकती है। साथ ही गठिया रोग का कारण बनने वाले एंजाइम भी नष्ट हो सकते हैं

शुगर को लेवल में रखना

अनार के रस में फ्रुक्टोज होता हैं, जिससे रक्त का शुगर लेवल नहीं बढ़ता. अधिकतर अन्य फल और उनके रस का सेवन मधुमेह के रोगियों को कम करने की सलाह दी जाती हैं, लेकिन वे अनार का सेवन कर सकते हैं.

वायरस और बैक्टेरिया से लड़ने का गुण

अनार में वायरस और बैक्टेरिया से लड़ने का गुण पाया जाता हैं जिससे इम्युनिटी बढ़ती हैं. यह मुँह में पाए जाने वाले रोगाणुओं जिससे, केविटी पनपती हैं, को भी खत्म करता हैं. अनार एक अकेला फल हैं जो एच.ई.वी संकरण को रोकता है. इस तरह अनार इम्यून सिस्टम को मजबूत करता हैं.

Tags: , , , , , ,
Avatar

0 Comments

Leave a Comment

FOLLOW US

GOOGLE PLUS

PINTEREST

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement

RECENTPOPULARTAG